Shine Delhi

Home

दिल्ली पुस्तक मेला 2022- एक शानदार सफलता प्रदर्शन में उत्कृष्टता के लिए प्रस्तुत पुरस्कार


आगंतुकों की अभूतपूर्व संख्या को आकर्षित करने के बाद, दिल्ली पुस्तक मेला, स्टेशनरी और कार्यालय स्वचालन (ऑफिस ऑटोमेशन) मेले का 26वां संस्करण आज प्रगति मैदान, नई दिल्ली में सफलतापूर्वक संपन्न हुआ। इंडिया ट्रेड प्रमोशन आर्गनाईजेशन (आईटीपीओ) ने इस पांच दिवसीय आयोजन में प्रतिभागियों को प्रदर्शन में उत्कृष्टता के लिए पुरस्कार प्रदान किए। इस अवसर पर श्री एसआर साहू, महाप्रबंधक, सुश्री हेमा मैती, महाप्रबंधक, श्री विकास कुमार सिंह, महाप्रबंधक और श्री राजेश मित्तल, अध्यक्ष, भारतीय प्रकाशक संघ (फेडरेशन ऑफ इंडियन पब्लिशर्स – एफ़आईपी) उपस्थित थे।

पुरस्कार मुख्य रूप से सरकारी क्षेत्र और निजी क्षेत्र सहित विभिन्न श्रेणियों में प्रस्तुत किए गए थे। सरकारी श्रेणी में, सूचना और प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार ने स्वर्ण, राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद ने रजत और साहित्य अकादमी ने कांस्य ट्रॉफी जीती, जबकि इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय और उर्दू अकादमी को विशेष प्रशंसा पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

निजी श्रेणी में रूपा पब्लिकेशन्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने स्वर्ण, प्रिंट्स प्राइवेट लिमिटेड ने रजत और एपीसी बुक्स ने कांस्य ट्राफियां जीती। कोहली बुक डिस्ट्रीब्यूटर्स को विशेष प्रशंसापुरस्कार मिला।

स्टेशनरी और कार्यालय स्वचालन (ऑफिस ऑटोमेशन) मेले में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए पुरस्कार भी दिए गए। डोम्स इंडस्ट्रीज प्राइवेट लिमिटेड, फाइलेक्स सिस्टम्स प्राइवेट लिमिटेड और हॉबी क्राफ्ट को क्रमशः स्वर्ण, रजत और कांस्य ट्राफियों से सम्मानित किया गया। वीनस फाइल प्रोडक्ट्स का प्रदर्शन उत्कृष्ट था।

अपने मुख्य भाषण में पुरस्कार विजेताओं की सराहना करते हुए, श्रीमती हेमा मैती, महाप्रबंधक, आईटीपीओ ने संकेत दिया कि हालांकि मेले के आयोजन में थोड़ा विलंबहो गया था, लेकिन यह एक बड़ी सफलता थी। उन्होंने यह भी आश्वासन दिया कि आगंतुकों की अच्छी प्रतिक्रिया को देखते हुए, अगले वर्ष मेले को बड़े पैमाने पर आयोजित किया जा सकता है।

श्री राजेश मित्तल, अध्यक्ष, एफआईपी ने भी इस कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए आईटीपीओ की सराहना की। मेले का अच्छा मीडिया कवरेज था और बहुत सारे आगंतुक विशेष रूप से छात्र पुस्तक पढ़ने और खरीदने का आनंद लेने के लिए मेले में आए। उन्होंने अगले कार्यक्रम के लिए “जी-20” के रूप में थीम का भी सुझाव दिया, ताकि जी-20 से जुड़े उन देशों की पुस्तकों को थीम क्षेत्र में प्रदर्शित किया जा सके। इसके अतिरिक्त उन्होंने उल्लेख किया कि एफआईपी पिछले 28 वर्षों से आईटीपीओ से जुड़ा हुआ है और 2023 में अपनी स्थापना की 50वीं वर्षगांठ मनाएगा।

श्री विकास कुमार सिंह ने ‘धन्यवाद ज्ञापन’ प्रस्तुत किया।


Leave a Comment

Your email address will not be published.