Shine Delhi

Home

मीडिया इंडस्ट्री की जरूरत के हिसाब से स्किल आधारित पाठ्यक्रम को अपनाएं  : आदर्श कुमार


  • कुमार

दिल्ली यूनिवर्सिटी के डॉ. भीमराव अंबेडकर कॉलेज में हिंदी पत्रकारिता एवं जनसंचार (ऑनर्स) के ओरिएंटेशन कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि और मुख्य वक्ता के तौर पर शामिल हुए वरिष्ठ टीवी पत्रकार व नोएडा इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी के असिस्टेंट प्रोफेसर आदर्श कुमार ने कहा कि नयी शिक्षा नीति के तहत बहुत सारे सकारात्मक बदलाव हुए हैं और स्किल इंडिया के तहत स्किल आधारित शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए सभी सरकारें कोशिश भी कर रही हैं, मगर देश भर के पत्रकारिता एवं जनसंचार पाठ्यक्रम में मीडिया इंडस्ट्री के हिसाब से बदलाव किए जाने की आवश्यकता है। इसके साथ ही समय-समय पर मीडिया में जो ट्रेंड चल रहा है, उसे ध्यान में रखते हुए कार्यशालाएं और सेमिनार आयोजित किए जाने चाहिए, जिससे छात्रों को यह व्यावहारिक जानकारी मिल सके कि मीडिया के जिस क्षेत्र में वो नौकरी हासिल करना चाहते हैं, उसकी क्या आवश्यकताएं हैं और वो किस तरह उन स्किल्स को सीख सकते हैं। उन्होंने आईआईएमसी, दिल्ली यूनिवर्सिटी और कुछ और निजी संस्थानों के पाठ्यक्रम को स्तरीय बताते हुए कहा कि प्रशिक्षण के दौरान भी नयी-नयी चीजों को सीखने की आवश्यकता होती है। टीवी एक्सपर्ट आदर्श कुमार के मुताबिक मीडिया शिक्षा की सबसे बड़ी विडंबना है कि देश भर की अलग-अलग यूनिवर्सिटी और संस्थानों के मीडिया पाठ्यक्रमों में बड़ा भारी अंतर है, सभी संस्थान अपने हिसाब से पाठ्यक्रम बनाते हैं मगर उन पाठ्यक्रमों को देखकर साफ तौर पर पता चलता है कि ये पढ़कर नौकरी तो नहीं मिलने वाली।

मीडिया एजुकेटर आदर्श कुमार की माने तो सबसे ज्यादा भ्रम की स्थिति ब्रॉडकास्ट मीडिया को लेकर है, ज्यादातर लोगों के पास व्यावहारिक जानकारी का अभाव है।

दिल्ली यूनिवर्सिटी के इस ओरिएंटेशन कार्यक्रम में इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन के महानिदेशक और माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति प्रो. संजय द्विवेदी मुख्य अतिथि के तौर पर मौजूद थे।  प्रो. संजय द्विवेदी ने कहा कि आपको खुद को लगातार अपडेट करने की आवश्यकता है। प्रो. द्विवेदी के मुताबिक आपको अपने विचारों में स्पष्टता रखनी होगी। आप मीडिया की आलोचना भी करें और मीडिया का ध्यान भी चाहें, यह एक साथ नहीं हो सकता। इस ओरिएंटेशन कार्यक्रम का विषय प्रवर्तन करते हुए भीमराव अंबेडकर महाविद्यालय के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग के प्रोफेसर बिजेंदर कुमार ने कहा कि तकनीक के चक्कर में हमारे मूल्य पीछे नहीं छूटने चाहिए। इस अवसर पर कॉलेज के प्राचार्य प्रो. आर.एन. दूबे और कार्यक्रम की संयोजक प्रो. शशि रानी ने पत्रकारिता के छात्रों को शुभकामनाएं दीं।


Leave a Comment

Your email address will not be published.